रणथम्भौर राष्‍ट्रीय उद्यान

रणथम्भौर राष्‍ट्रीय उद्यान (Ranthambore national park)

भारत के बड़े टाइगर रिजर्व राष्‍ट्रीय उद्यानों में से एक रणथम्भौर राष्‍ट्रीय उद्यान राजस्‍थान के सवाई माधोपुर जिले में स्थित है। इसका नाम यहां की दो पहाडि़यों ‘रन’ और ‘थम्‍बोर’ के नाम पर पड़ा। प्राचीन समय में यह स्‍थान राजाओं के आखेट के लिए प्रमुख था। इस उद्यान के भीतर कई झीलें स्थित हैं जिसमें विभिन्‍न जलीय जीव निवास करते हैं और आस-पास के वन क्षेत्रों में धारीदार हाइना, तेंदुए, स्लॉ‍थ बियर और जंगली सुअर देखने को मिलते हैं।


रणथम्भौर नेशनल पार्क

रणथम्भौर नेशनल पार्क (Ranthambore National Park)

रणथम्भौर नेशनल पार्क भारत के सबसे बड़े और सुंदर वन्यजीव अभयारण्य में से एक है। राजस्थान के सवाई माधोपुर में स्थित यह वन्यजीव अभयारण्य में बाघों को संरक्षित करने के लिए दुनियाभर में मशहूर हैं। सिर्फ प्रकृति ही नहीं रणथम्भौर नेशनल पार्क में कई ऐतिहासिक स्थान भी है जो आपकी यात्रा को रोमांचक बनाते हैं। इस अभयारण्य में कई झीलें और दुर्ग-किले आदि भी हैं। इस पार्क में तीन झीलें पद्म तालाब, मलिक तालाब और राज बाघ हैं जहां कमल के फूल उगते हैं। अरावली और विंध्याचल पर्वत की तलहटी में बसे सवाई माधोपुर में यह नेशनल पार्क स्थित है। इस नेशनल पार्क में बाघों के साथ तेंदुआ, हिरण, चीतल, नीलगाय आदि भी काफी संख्या में हैं। रणथम्भौर नेशनल पार्क में पक्षियों की भी कई प्रजातियां रहती है। 

रणथम्भौर नेशनल पार्क का इतिहास (History of Ranthambore National Park)

इसका नाम यहां की दो पहाड़ियों ‘रन’ और ‘थम्बोर’ के नाम पर पड़ा। प्राचीन समय में यह स्थान राजाओं के आखेट के लिए प्रमुख था। सवाई माधोपुर में स्थित रणथम्भौर नेशनल पार्क की स्थापना की स्थापना 1955 में सवाई माधोपुर गेम सैंचुरी के रूप में भारत सरकार ने की थी। 1973 में इस स्थान को टाइगर्स रिजर्व घोषित कर दिया गया। टाइगर रिजर्व घोषित होने के बाद रणथम्भौर में पर्यटकों की संख्या बढ़ने लगी, इसे देखते हुए वर्ष 1984 में भारत सरकार ने इस स्थान को नेशनल पार्क घोषित किया।

रणथम्भौर नेशनल पार्क मे क्या देखे

रणथम्भौर नेशनल पार्क में त्रिनेत्रा गणेश मंदिर स्थित है। कहा जाता है कि यहां गणेश जी रणथम्भौर के जंगलों और जंगली जानवरों से मनुष्यों की रक्षा करते हैं। अगस्त और सितंबर के बीच मनाए जाने वाले गणेश मेले के दौरान यहां श्रद्धालुओं की बड़ी भीड़ उमड़ती है। 

रणथम्भौर नेशनल पार्क सलाह

  •  पार्क में जाने से पहले बुकिंग कराना जरूरी होता है, बुकिंग ऑनलाइन भी कराई जा सकती है
  •  रणथम्भौर नेशनल पार्क 1 अक्टूबर से 30 जून तक खुला रहता है, यह नेशनल पार्क 1 जुलाई से लेकर 30 सितंबर तक बंद रहता है
  •  रणथम्भौर नेशनल पार्क का मौसम दिन के समय गर्म और रात के समय ठंडा होता है इसलिए मौसम के अनुसार कपड़े रखने सही होता है
  •  कहीं भी यात्रा से पहले पहचान पत्र अवश्य साथ रखने चाहिए