जैसलमेर के बारे में जानकारी - Jaisalmer (Golden City) in Hindi
जैसलमेर

जैसलमेर के बारे में जानकारी - Jaisalmer (Golden City) in Hindi

Travel Raftaar

जैसलमेर, राजस्थान राज्य में स्थित एक ऐतिहासिक शहर है जिसे "द गोल्डन सिटी" (Jaisalmer- Golden City) के नाम से भी जाना जाता है। इस शहर ने यदुवंश से लेकर अंग्रेजों के शासन काल तक के भारतीय इतिहास को देखा है। 12वीं से 15वीं शताब्दी के मध्य बने कई भव्य महल और जैन मंदिर शहर में स्थित हैं, जिनकी सुंदर बनावट से शाही राज घरानों का इतिहास झलकता है। इतिहास में महत्त्वपूर्ण स्थान रखने वाले, जैसलमेर की हवेलियां, राज भवन, दुर्ग, जलाशयों आदि की सुंदरता पर्यटकों को अपनी तरफ आकर्षित करती है। जैसलमेर अपनी ऐतिहासिक इमारतों के साथ- साथ स्वादिष्ट व्यंजनों के लिए भी काफी प्रसिद्ध स्थान है।

जैसलमेर के बारे मे -

यहां स्थित खादी ग्राम उद्योग भवन (Khadi Gramuddyog Bhavan) कपड़े खरीदने के लिए सबसे अच्छा है। इसके अलावा पर्यटक जैसलमेर के बाजारों से लैदर के बैग, हाथ से बुने हुए शाल कंबल, स्थानीय ज्वैलरी आदि खरीद सकते हैं।

जैसलमेर की यात्रा सुविधाएं -

  • सर्दियों के दौरान यहां का मौसम सुहावना होता है और रात के समय ठंड बढ़ जाती है इसलिए यात्रा के दौरान अपने साथ ऊनी कपड़े जरूर रखें

  • बाहर घूमने से पहले पानी की बोतल साथ जरूर रखें

  • फोटोग्राफी के शौकीन यहां कैमरा लाना बिलकुल न भूलें

  • यात्री यहां ऊंट की सवारी का भी आनंद उठा सकते हैं

जैसलमेर का इतिहास -

जैसलमेर की स्थापना 12वीं शताब्दी में यदुवंशी भाटी (Bhati) के वंशज रावल जैसल ने की थी। रावल-जैसल के वंशजों ने लगातार 770 वर्षों तक यहां शासन किया था। जैसलमेर शहर पर कई बार खिलजी, राठौर, तुगलक, मुगल आदि ने आक्रमण किया था। प्राचीन काल में यह क्षेत्र ’वल्लभमण्डल’ के नाम से प्रसिद्ध था।

जैसलमेर की सामान्य जानकारी -

  • राज्य- राजस्थान

  • स्थानीय भाषाएं- राजस्थानी, हिंदी और अंग्रेज़ी

  • स्थानीय परिवहन- बस, टैक्सी, कैब और लोकल ट्रेन

  • पहनावा- जैसलमेर में महिलाएं घाघरा- चोली पहनती हैं। घाघरा- चोली के साथ महिलाएं 2 से 3 मीटर लंबी रंगीन चुनरी ओढ़ती हैं। इसके अलावा यहां के पुरुष धोती और अंगराखा (एक प्रकार का जैकेट) पहनते हैं।

  • खान-पान- जैसलमेर में मुर्ग़-इ-सब्ज़ (Murgh-e-subz) जो एक विशेष प्रकार का माँसाहारी व्यंजन है, स्थानीय लोगों के बीच काफी लोकप्रिय है। इसके अलावा पर्यटक यहां मिलने वाली नान, पुदीने की चटनी, वेजिटेबल कबाब, गट्टे की सब्जी आदि से भरी राजस्थानी थाली का स्वाद भी चख सकते हैं। यहां कई रेस्तरां भी हैं जहां भारतीय और गुजराती व्यंजन मिलते हैं।

जैसलमेर के प्रमुख त्यौहार

जैसलमेर जाने का सबसे उत्तम समय अक्टूबर से मार्च का महीना है।

जैसलमेर कैसे पहुंचें -

  • हवाई मार्ग - By Flight

जैसलमेर का नजदीकी हवाई अड्डा जोधपुर हवाई अड्डा है जो करीब 283 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। 

  • रेल मार्ग - By Rail

जैसलमेर का निकटतम रेलवे स्टेशन 'जैसलमेर' है। जो शहर से लगभग 3 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

  • सड़क मार्ग - By Road

जैसलमेर सड़क मार्ग द्वारा राजस्थान और गुजरात के कई बड़े शहरों से अच्छी तरह जुड़ा हुआ है।

जैसलमेर घूमने का समय -

  • डेजर्ट फेस्टिवल - Desert Festival

यह जैसलमेर का प्रसिद्ध त्यौहार है जो जनवरी से फरवरी माह के बीच बड़े धूम- धाम से मनाया जाता है। यह त्यौहार यहां की ग्रामीण संस्कृति और विरासत को दर्शाता है। इस दौरान ऊंटों की दौड़, पगड़ी बांधने की प्रतियोगिता और सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है।

  • गणगौर - Gangaur

यह त्यौहार जैसलमेर के महत्त्वपूर्ण पारंपरिक उत्सवों में से एक है। हालांकि इस त्यौहार को पूरे राजस्थान में बड़े धूम- धाम से मनाया जाता है। लेकिन जैसलमेर में दो सप्ताह तक चलने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रम और अनुष्ठान इसकी शोभा को बढ़ा देते हैं। इस दौरान विवाहित और अविवाहित स्त्रियां व्रत रखती हैं तथा नए- नए वस्त्र पहनकर शिव पार्वती की पूजा करती है और गीत गाते हुए नृत्य करती हैं।

Raftaar
women.raftaar.in