इलाहाबाद क़िला

इलाहाबाद क़िला (Allahabad qila)

इलाहाबाद किला (Allahabad Fort), इलाहाबाद शहर में संगम तट पर स्थित एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। बादशाह अकबर द्वारा निर्मित इस किले का इतिहास बहुत समृद्ध है। लंबे समय तक ब्रिटिश शासन के अधीन रह चुके इस किले का निर्माण अफगान विद्रोह को समाप्त करने के लिए किया गया था। इस किले के आस- पास का प्राकृतिक दृश्य इतना खूबसूरत दिखाई देता है कि पर्यटक यहाँ खुद ब खुद खिंचे चले आते हैं। इलाहाबाद किले में पर्यटक जनानी महल, अशोक स्तंभ, सरस्वती कूप, जोधा बाई महल आदि की शानदार बनावट को घंटों निहार सकते हैं। इन सबके अलावा अक्षय वट (पुराना बरगद का पेड़) और प्रसिद्ध पातालपुर मंदिर भी यहीं स्थित है।

इलाहाबाद किला का इतिहास (History of Allahabad Fort)

इलाहाबाद किले का निर्माण 1583 ई॰ में सम्राट अकबर द्वारा करवाया गया था। मुगल शासकों और अंग्रेजो ने अपने- अपने शासन काल में अपनी सुविधा के अनुसार किले में फेरबदल करवाया था।

इलाहाबाद क़िला मे क्या देखे

इलाहाबाद किले का अधिकतर भाग भारतीय सेना द्वारा प्रयोग किया जाता है जहाँ पर्यटकों को जाने की अनुमति नहीं है।

इलाहाबाद क़िला सलाह

  • वर्तमान में पर्यटक इस किले का केवल कुछ ही भाग देख सकते हैं
  • इलाहाबाद किला 7 बजे से लेकर शाम के 6 बजे तक पर्यटकों के लिए खुला रहता है