पुणे

पुणे

महाराष्ट्र राज्य में मुला व मूठा नदी के किनारे बसा पुणे (Pune), क्षेत्रफल के आधार पर यह भारत का छठवां तथा महाराष्ट्र का दूसरा सबसे बड़ा शहर है। "क्‍वीन ऑफ द दक्कन (Queen of the Deccan)" के नाम से प्रसिद्ध पुणे शहर को महाराष्ट्र की सांस्‍कृतिक राजधानी भी कहा जाता है। प्राचीनकाल में इसे पुन्नक, पुण्यक, कसबे पुणे, पुनवडी, पूना आदि नामों से जाना जाता था। वर्तमान में पुणे, इसका आधिकारिक नाम है। पुणे में प्रसिद्ध स्कूल, कॉलेज तथा इंस्टिट्यूट हैं जैसे पुणे विद्यापीठ, राष्ट्रीय रासायनिक प्रयोगशाला, खगोलशास्त्र एवं खगोलभौतिकी अन्तरविश्वविद्यालय केन्द्र, पुणे फिल्म इंस्टिट्यूट, अगरकर संशोधन संस्था, सी- डैक आदि जिसके कारण इसे 'पूरब का ऑक्सफोर्ड (Oxford of East)' भी कहा जाता है। इसके अलावा पुणे भारत का महत्त्वपूर्ण औद्योगिक केंद्र भी माना जाता है। यहां टाटा, बजाज, भारत फोर्ज की मैन्युफैक्चरिंग यूनिट्स के अलावा इन्फोसिस, विप्रो, सिमैंटेक, आइ.बी.एम जैसी कंपनियों के ऑफिस भी हैं। अब यह शहर भारत के एक प्रमुख सूचना प्रौद्योगिकी उद्योगकेंद्र के रूप मे विकसित हो चुका है।


पुणे के बारे मे

पुणे के एम. जी रोड (MG Road) मार्केट से पर्यटक जरुरत की लगभग सभी चीजें खरीद सकते हैं जैसे कपड़े, जूते, घरेलू सामग्री आदि। इसके अलावा बाजीराव रोड पर स्थित तुलसी बाग (Tulsi Bagh) से कम कीमत पर कपड़ों और और जूतों की खरीदारी की जा सकती है।

पुणे की यात्रा सुविधाएं

  • यदि मंदिरों में दान करने की इच्छा हो तो दानपेटी में ही दान दें। लोकल गाइड्स के बहकावे में ना आएं
  • स्मारकों का भ्रमण करते समय कैमरा साथ रखें, ताकि यहाँ बिताए गए खूबसूरत लम्हों को यादगार बनाया जा सके
  • पुणे का भ्रमण करने के लिए होटल और टिकट की बुकिंग समय से करवा लें और यात्रा के दौरान सजग करें
  • बाजार में शॉपिंग या घूमते समय जेबकतरों से सावधान रहें

पुणे का इतिहास

पुणे, शिवाजी महाराज व मराठा साम्राज्य के इतिहास को दर्शाता है। 17वीं शताब्दी में पुणे की जमींदारी निजामशाही ने शाहजीराजे भोसले को सौंपी थी, जिस दौरान शिवनेरी किले पर शिवाजीराजे भोसले का जन्म हुआ। शिवाजी ने 1749 में पुणे को मराठा साम्राज्य की "प्रशासकीय राजधानी" बनाया गया। 1817 में ब्रिटिश व मराठों के बीच खडकी का ऐतिहासिक युद्ध में मराठों को हार का सामना करना पड़ा और पुणे, ब्रिटिश के अधीन हो गया। ब्रिटिश सरकार ने पुणे की महत्ता को ध्यान में रखते हुए लष्कर छावनी की स्थापना की। साल 1858 में पुणे में महानगरपालिका की स्थापना हुई। साल 1947 में ब्रिटिश राज से आजादी के बाद पुणे शहर काफी विकसित हुआ।

पुणे की सामान्य जानकारी

  • राज्य- महाराष्ट्र
  • स्थानीय भाषाएँ- मराठी, हिंदी, अंग्रेज़ी
  • स्थानीय परिवहन- टेम्पो, रिक्शा, साइकिल, ऑटो
  • पहनावा- महाराष्ट्र में स्थित पुणे शहर में रहने वाले स्थानीय पुरुष धोती के साथ शर्ट पहनते हैं जिसे "फेटा (pheta) कहा जाता है। इसके साथ ही पुरुष कपास(Cotton), रेशम (Silk) या ऊनी (Woolen) कपड़े से बनी टोपी भी पहनते हैं। यहाँ की महिलाएं साड़ी पहनती हैं।
  • खान-पान- पुणे शहर में कई रेस्तरां है जहाँ पर्यटक तरह- तरह के स्वादिष्ट व्यंजनों का स्वाद ले सकते हैं। मिसाल पाव (Misal Pav), पूरन पोली (Puran Poli), पिथला भाकरी (Pithla bhakri), पानी पूरी (Panipuri), भेल पूरी (bhelpuri), और पाव भाजी (Pav Bhaji) आदि यहाँ के प्रसिद्ध व्यंजन हैं।