संकट मोचन के बारे में जानकारी - Sankat Mochan in Hindi

संकट मोचन के बारे में जानकारी - Sankat Mochan in Hindi

सुंदर वादियों के बीच बसा तीन मंजिला संकट मोचन मंदिर (Sankat Mochan Temple), शिमला (Shimla) शहर में स्थित है। नाम से ही ज्ञात होता है कि शहर का यह प्रसिद्ध मंदिर संकट मोचन हनुमान (Lord Hanuman) को समर्पित है।

यह मंदिर कालका-शिमला राजमार्ग (Kalka-Shimla National Highway) से कुछ ही दूरी पर है, जहाँ पहुँचने की हर सुविधा मौजूद है। मंदिर परिसर में भगवान हनुमान के साथ-साथ प्रभु श्री राम, भगवान शिव, नवग्रह, बाबा नीब करोरी और दक्षिण भारतीय शैली में बना भगवान गणेश का मंदिर भी है।

एक छोटे से मंदिर से शुरू हुआ यह धार्मिक स्थल आज करीब 18.8 बीघा के क्षेत्र में फैला है। मंदिर की एक मंजिल में प्रत्येक रविवार को लंगर आयोजित किया जाता है और कुछ हिस्सा मंदिर की देखरेख कर रहे पुजारियों व कर्मचारियों का निवास स्थान है।

संकट मोचन मंदिर का इतिहास - History of Sankat Mochan in HIndi

वर्ष 1950 में बाबा नीब करोरी महाराज इस स्थान पर ध्यान साधना करने के लिए आए थे। करीब 10 दिन गुज़ारने के बाद उनकी इस जगह एक हनुमान मंदिर बनवाने की इच्छा हुई। उस वक़्त के गवर्नर और बाबा के भक्तों ने मिलकर उनकी इच्छा को पूरा करने के लिए पवनपुत्र हनुमान को समर्पित मंदिर का निर्माण कार्य शुरू किया। यह मंदिर सन् 1966 में बनकर तैयार हुआ।

संकट मोचन मे क्या देखे -

मंदिर की एक मंजिल सामूहिक विवाह व अन्य पवित्र अनुष्ठान के लिए प्रयोग में लाई जाती है।

संकट मोचन सलाह -

  • मंदिर के बाहर पार्किंग की अच्छी सुविधा है
  • सुबह 7 बजे से शाम 7 बजे तक मंदिर में दर्शन किये जा सकते हैं
  • पहाड़ों पर स्वयं गाड़ी चलाने की जगह किसी पेशेवर ड्राईवर की सहायता लें
No stories found.