महाबलेश्वर के बारे में जानकारी - Mahabaleshwar in Hindi
महाराष्ट्र

महाबलेश्वर के बारे में जानकारी - Mahabaleshwar in Hindi

Travel Raftaar

महाबलेश्वर (Mahabaleshwar) शहर, महाराष्ट्र राज्य के सतारा जिले में स्थित एक प्रसिद्ध हिल स्टेशन है, जिसे पांच नदियों की भूमि भी कहते हैं क्योंकि वीना, गायत्री, सावित्री, कोयना और कृष्‍णा नदी यहीं पर बहती हैं। महाबलेश्‍वर का शाब्दिक अर्थ "भगवान की महान शक्ति" है। समुद्रतल से लगभग 1440 मीटरमीटर की ऊंचाई पर बसा महाबलेश्वर 150 वर्ग किमी क्षेत्र में फैला हुआ है। महाबलेश्वर, मुम्‍बई से लगभग 263 तथा पुणे से करीब120 किमी दूर है।

महाबलेश्वर के बारे मे -

महाबलेश्वर में मप्रों गार्डन्स (Mapro Gardens) तथा टाउन बाजार (Town Bazaar) से शहद, कोल्हापूरी चप्पलें, हाथ से बनी सुंदर छड़िया, कढाईदार कपड़े, शॉल, टोकरी और सजावटी की वस्तुएं आदि खरीद सकते हैं। इसके अलावा फलों से बनी जैली और जैम आदि की ख़रीदारी की जा सकती है।

महाबलेश्वर की यात्रा सुविधाएं -

  • अगर मंदिर में दर्शन करते समय दान करने की इच्छा प्रकट हो तो दानपेटी में ही दान दें। लोकल गाइड्स या किसी अन्य के बहकावे में ना आएं

  • स्मारकों का भ्रमण करते समय कैमरा साथ रखें, ताकि यहां बिताए हुए यादगार पलों को कैद किया जा सके

  • महाबलेश्वर का भ्रमण करने के लिए होटल बुकिंग और टिकट समय से करवा लें और यात्रा से पूर्व सुनिश्चित करें

  • बाजार में शॉपिंग या घूमते समय जेबकतरों से सावधान रहें

महाबलेश्वर का इतिहास -

राजा सिंघन ने महाबलेश्वर शहर की खोज की थी और प्रसिद्ध मंदिर महाबलेश्‍वर भी सिंघन ने बनवाया था। सन 1819 में महाबलेश्वर ब्रिटिश सरकार के अधीन हो गया था और आजादी के बाद महाबलेश्वर हिल स्‍टेशन के रूप में प्रसिद्ध हुआ। प्राचीनकाल से ही कृष्णा तथा सहायक नदियों का उद्गम होने के करण महाबलेश्वर हिन्दुओं का प्रमुख तीर्थस्थल रहा है। इस क्षेत्र की महत्ता को ध्यान में रखते हुए 1829-30 के दौरान जॉन मेलकम ने हिल स्टेशन के रूप में आधुनिक शहर की स्थापना की थी। इसी कारण महाबलेश्वर को ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी के गवर्नर मैलकमपेथ (Malcolm Peth) के नाम से जाना जाता था।

महाबलेश्वर की सामान्य जानकारी -

  • राज्य- महाराष्ट्र

  • स्थानीय भाषाएँ- हिंदी, मराठी, अंग्रेज़ी

  • स्थानीय परिवहन- टेम्पो, रिक्शा, साइकल, ऑटो, रेल, बस

  • पहनावा- औरतें यहाँ नौवारी (Nauvari) साड़ी के साथ-साथ कांजीवरम (kanjivaram), बनारसी (banarasi), इराक्ली (iraakli), चंदेरी (chanderi), और पैठानी (paithani) साड़ी भी पहनती है। इसके अलावा यहाँ की महिलाएं सूट- सलवार आदि भी पहनती हैं। महाबलेश्वर के स्थानीय पुरुष कुर्ता- पजामा, पैंट शर्ट, धोती और फेटा पहनते हैं।

  • खान-पान- महाबलेश्वर क्षेत्र में गाजर, स्ट्रॉबेरी आदि की खेती होती है। इसलिए यहां ताजी गाजर, स्ट्रॉबेरी के साथ ही यहाँ की खास कॉर्न पैटीज का स्वाद लिया जा सकता है।

महाबलेश्वर कैसे पहुंचें -

  • हवाई अड्डा - By Flight

महाबलेश्वर से लगभग 135.4 किमी॰ की दूरी पर स्थित पुणे अंतर्राष्ट्रीय हवाई- अड्डा, सबसे नजदीकी एयरपोर्ट है। 

  • रेलवे स्टेशन - By Train

पुणे जंक्शन महाबलेश्वर के लिए सबसे नजदीकी रेलवे स्टेशन हैं, जो लगभग 123.4 किमी॰ की दूरी पर स्थित है, जहां से बस या कैब द्वारा महाबलेश्वर जाया जा सकता है। 

  • सड़क मार्ग - By Road

महाबलेश्वर, देश के दूसरे बड़े व महत्त्वपूर्ण शहरों से राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 4 (NH 4) द्वारा भली- भांति जुड़ा हुआ है। महाबलेश्वर बस स्टेशन यहां का सबसे करीबी बस अड्डा है।

महाबलेश्वर घूमने का समय -

महाबलेश्वर एक हिल स्टेशन है, जहां का तापमान गर्मियों में भी सामान्य रहता है। वैसे तो पर्यटक जनवरी से दिसंबर के मौसम में कभी भी यहां आ सकते हैं लेकिन यहाँ घूमने का उत्तम समय सितंबर से अप्रैल के महीने हैं।

Raftaar
women.raftaar.in