Go To Top
Raftaar HomeRaftaar Home
Search
Menu
`
Menu
close button
Ranthambore National Park

रणथम्भौर नेशनल पार्क पर्यटन स्थल Ranthambore National Park Travel Guide

रणथम्भौर नेशनल पार्क (Ranthambore National Park)

रणथम्भौर नेशनल पार्क भारत के सबसे बड़े और सुंदर वन्यजीव अभयारण्य में से एक है। राजस्थान के सवाई माधोपुर में स्थित यह वन्यजीव अभयारण्य में बाघों को संरक्षित करने के लिए दुनियाभर में मशहूर हैं। सिर्फ प्रकृति ही नहीं रणथम्भौर नेशनल पार्क में कई ऐतिहासिक स्थान भी है जो आपकी यात्रा को रोमांचक बनाते हैं। इस अभयारण्य में कई झीलें और दुर्ग-किले आदि भी हैं। इस पार्क में तीन झीलें पद्म तालाब, मलिक तालाब और राज बाघ हैं जहां कमल के फूल उगते हैं। अरावली और विंध्याचल पर्वत की तलहटी में बसे सवाई माधोपुर में यह नेशनल पार्क स्थित है। इस नेशनल पार्क में बाघों के साथ तेंदुआ, हिरण, चीतल, नीलगाय आदि भी काफी संख्या में हैं। रणथम्भौर नेशनल पार्क में पक्षियों की भी कई प्रजातियां रहती है। 

रणथम्भौर नेशनल पार्क का इतिहास (History of Ranthambore National Park)

इसका नाम यहां की दो पहाड़ियों ‘रन’ और ‘थम्बोर’ के नाम पर पड़ा। प्राचीन समय में यह स्थान राजाओं के आखेट के लिए प्रमुख था। सवाई माधोपुर में स्थित रणथम्भौर नेशनल पार्क की स्थापना की स्थापना 1955 में सवाई माधोपुर गेम सैंचुरी के रूप में भारत सरकार ने की थी। 1973 में इस स्थान को टाइगर्स रिजर्व घोषित कर दिया गया। टाइगर रिजर्व घोषित होने के बाद रणथम्भौर में पर्यटकों की संख्या बढ़ने लगी, इसे देखते हुए वर्ष 1984 में भारत सरकार ने इस स्थान को नेशनल पार्क घोषित किया।

रणथम्भौर नेशनल पार्क का नक्शा Ranthambore National Park, Sawai Madhopur, Rajasthan Map

रणथम्भौर नेशनल पार्क कैसे पहुंचेंHow to Reach Ranthambore National Park

सवाई माधोपुर जंक्शन से रणथम्भौर नेशनल पार्क तक जाने के लिए स्थानीय सुविधाएं मौजूद हैं। सवाई माधोपुर जंक्शन तक जाने के लिए भारत के विभिन्न शहरों से रेल मिलती है। हवाई मार्ग से आने वाले पर्यटक कोटा या जयपुर हवाई अड्डे से बस या ऑटो द्वारा यहां पहुंच सकते हैं।<>

ध्यान रखने योग्य बातेंPoints to remember

  •  पार्क में जाने से पहले बुकिंग कराना जरूरी होता है, बुकिंग ऑनलाइन भी कराई जा सकती है
  •  रणथम्भौर नेशनल पार्क 1 अक्टूबर से 30 जून तक खुला रहता है, यह नेशनल पार्क 1 जुलाई से लेकर 30 सितंबर तक बंद रहता है
  •  रणथम्भौर नेशनल पार्क का मौसम दिन के समय गर्म और रात के समय ठंडा होता है इसलिए मौसम के अनुसार कपड़े रखने सही होता है
  •  कहीं भी यात्रा से पहले पहचान पत्र अवश्य साथ रखने चाहिए

रोचक तथ्यInteresting Facts of Ranthambore National Park

रणथम्भौर नेशनल पार्क में त्रिनेत्रा गणेश मंदिर स्थित है। कहा जाता है कि यहां गणेश जी रणथम्भौर के जंगलों और जंगली जानवरों से मनुष्यों की रक्षा करते हैं। अगस्त और सितंबर के बीच मनाए जाने वाले गणेश मेले के दौरान यहां श्रद्धालुओं की बड़ी भीड़ उमड़ती है। <>

सवाई माधोपुर में स्थित रणथम्भौर नेशनल पार्क (Ranthambore National Park at Sawai-Madhopur) एक अहम वन्यजीव अभ्यारण (Wildlife Sanctuary) पर्यटन स्थल (Tourist Place, Paryatan Sthal) है। रणथम्भौर नेशनल पार्क में समय (Ranthambore National Park Timing) का विशेष ध्यान रखना चाहिए। इस लेख (Travel Guide) के माध्यम से यहाँ के इतिहास, कैसे पहुँचें, रोचक तथ्य आदि की जानकारी पर्यटकों की रणथम्भौर नेशनल पार्क यात्रा (Sawai-Madhopur Travel Guide) को पूर्ण करेगी।

रणथम्भौर नेशनल पार्क के सर्च रिजल्ट

रणथंभौर राष्ट्रीय उद्यान

अवश्य जाएँ रणथंभौर राष्ट्रीय उद्यान, उत्तर भारत में सबसे बड़ा वन्यजीव भंडार में से एक है, जो राजसी खेल संरक्षण था। 1955 में, यह एक वन्यजीव अभयारण्य के...

hindi.nativeplanet.comपूरा पढ़े...

रणथम्भौर नेशनल पार्क के निकट दर्शनीय स्थलPlaces to Visit Near Ranthambore National Park

राजस्थान के अन्य पर्यटन स्थलOther Tourist Places of Rajasthan

राजस्थान के प्रमुख पर्यटन स्थलTop Tourist Places of Rajasthan