Go To Top
Raftaar HomeRaftaar Home
Search
Menu
`
Menu
close button
Chamundi Hills

चामुंडी पहाड़ी पर्यटन स्थल Chamundi Hills Travel Guide

चामुंडी पहाड़ी (Chamundi Hills)

मैसूर के शाही-ठाठ बाट में केवल बेमिसाल किले और महल ही नहीं यहां की चामुंडी पहाड़ी (Chamundi Hills) भी घूमने की एक शानदार जगह है। समुद्र तल से तकरीबन 1065 मी. ऊंची इस पहाड़ी से मैसूर शहर का नजारा बेहद दर्शनीय लगता है। चामुंडी पहाड़ी पर स्थित "चामुंडेश्वरी मंदिर" यहां का एक प्रमुख आकर्षण है। चामुंडेश्वरी, देवी पार्वती का एक अवतार मानी जाती हैं। यह मंदिर करीब 40 मीटर ऊंचा है। मंदिर की खूबसूरती का एक अहम कारण इसकी निर्माण शैली भी है। चामुंडी पहाड़ी पर स्थित चामुंडेश्वरी मंदिर तक जाने के लिए करीब एक हजार सीढ़ियां चढ़नी पड़ती हैं। दशहरे के दौरान माता चामुंडेश्वरी की विशाल मूर्ति को सुसज्जित हाथियों के साथ यहां लाया जाता है। मंदिर से कुछ ही दूरी पर राक्षस महिषासुर की एक विशाल मूर्ति भी है। 

चामुंडी पहाड़ी का इतिहास (History of Chamundi Hills)

मैसूर के इतिहास में चामुंडी पहाड़ी का स्थान सदा से अहम रहा है। कहा जाता है कि चामुंडी पहाड़ी पर स्थित चामुंडेश्वरी मंदिर का निर्माण 1000 साल से भी पहले हुआ था। इस मंदिर का निर्माण होयसला राजा विष्णुवर्धन (Hoysala King Vishnuvardhana) ने 12वीं शताब्दी में कराया था। इस मंदिर को प्रमुखता वाडियार वंश के आने के बाद मिली। मैसूर का वाडियार (Wodeyars) शाही परिवार माता चामुंडेश्वरी को शाही परिवार का रक्षक मानता था। उनके जीवन में माता चामुंडेश्वरी देवी और चामुंडी पर्वत का बेहद अहम स्थान रहा। इस मंदिर के निर्माण और अन्य कार्य कराने में वाडियार वंश का काफी योगदान रहा है। 

चामुंडी पहाड़ी का नक्शा Chamundi Hills, Mysore, Karnataka Map

चामुंडी पहाड़ी कैसे पहुंचेंHow to Reach Chamundi Hills

हवाई मार्ग से आने वाले यात्री मैसूर एयरपोर्ट या बैंगलौर एयरपोर्ट तक पहुंचकर वहां से बस या टैक्सी कर सकते हैं। मैसूर जंक्शन यहाँ का निकटम रेलवे स्टेशन है। मैसूर देश के सभी बड़े शहरों से सड़क मार्ग के द्वारा जुड़ा हुआ है। मैसूर शहर से चामुंडी पहाड़ी तक का रास्ता 12 किमी का है।<>

ध्यान रखने योग्य बातेंPoints to remember

  • शाम होने के समय पहाड़ी पर नहीं घूमना चाहिए, कोशिश करनी चाहिए कि शाम ढ़लने से पहले पहाड़ी से घूम कर नीचे आ जाएं
  • पहाड़ी के रास्ते में बंदर घूमते रहते हैं इनसे बचकर रहना चाहिए
  • पहाड़ी पर स्थित मंदिर में दर्शन सुबह 7:30 बजे से लेकर रात 9:00 बजे तक किए जा सकते हैं

रोचक तथ्यInteresting Facts of Chamundi Hills

चामुंडी पहाड़ी के शीर्ष तक जाने के लिए करीब एक हजार सीढ़ियां चढ़नी पड़ती हैं। चामुंडी पहाड़ी के शीर्ष पर स्थित चामुंडेश्वरी मंदिर में रखी गई देवी की मूर्ति सोने से बनी है जो यहां का मुख्य आकर्षण है। चामुंडी पहाड़ी पर भगवान शिव के वाहन नंदी की एक विशाल प्रतिमा भी है जो बेहद सुंदर है। <>

मैसूर में स्थित चामुंडी पहाड़ी (Chamundi Hills at Mysore) एक अहम तीर्थयात्रा (Pilgrimage) पर्यटन स्थल (Tourist Place, Paryatan Sthal) है। चामुंडी पहाड़ी में समय (Chamundi Hills Timing) का विशेष ध्यान रखना चाहिए। इस लेख (Travel Guide) के माध्यम से यहाँ के इतिहास, कैसे पहुँचें, रोचक तथ्य आदि की जानकारी पर्यटकों की चामुंडी पहाड़ी यात्रा (Mysore Travel Guide) को पूर्ण करेगी।

चामुंडी पहाड़ी के निकट दर्शनीय स्थलPlaces to Visit Near Chamundi Hills

कर्नाटक के प्रमुख पर्यटन स्थलTop Tourist Places of Karnataka