Go To Top
Raftaar HomeRaftaar Home
Search
Menu
`
Menu
close button
Haji Ali Dargah

हाजी अली की दरगाह पर्यटन स्थल Haji Ali Dargah Travel Guide

हाजी अली की दरगाह  (Haji Ali Dargah)

हाजी अली की दरगाह (Haji Ali Dargah) मुंबई में स्थित एक दरगाह व मस्जिद है। सैयद पीर हाजी अली शाह बुखारी (Sayyed Peer Haji Ali Shah Bukhari) की याद में बनाई गई यह दरगाह हिन्दू और मुस्लिम दोनों समुदाय के लिए आस्था का एक महत्त्वपूर्ण केंद्र है। यह दरगाह वारली तट से थोड़ी दूर एक छोटे से टापू पर लगभग 4500 मीटर के क्षेत्रफल में बनी है। इस दरगाह के समीप एक मीनार है जिसकी ऊंचाई 85 फीट है। मस्जिद के भीतर हाजी अली की कब्र है जो हर समय लाल या हरे रंग के चादर से ढकी हुई रहती है। दरगाह तक पहुंचने के लिए समुद्र के ऊपर बना पुल एकमात्र रास्ता है, जो समुद्री ज्वार के समय पानी में डूब जाता है।

हाजी अली की दरगाह का इतिहास (History of Haji Ali Dargah)

हाजी अली की दरगाह सन् 1431 में एक अमीर मुस्लिम व्यापारी, सैयद पीर हाजी अली शाह बुखारी की याद में बनाया गया था। जिन्होंने मक्का की यात्रा करने से पहले अपनी सारी संपत्ति त्याग दी थी। कहा जाता है कि हाजी अली ने अपनी मृत्यु से पहले अपने अनुयायियों से कहा था कि उनके शव को किसी भी जगह ना दफनाएं बल्कि उनके शव को ताबूत में डालकर समुद्र में बहा दें और जिस जगह जाकर वह ताबूत रूके वहीं दरगाह बना दें। उनके अनुयायियों ने उनकी बात मानी और मृत्यु के बाद उनके शव को एक ताबूत में बंद करके समुद्र में बहा दिया। वह ताबूत समुद्र में बने चट्टानों के छोटे से टीले पर जाकर रुक गया। आज इसी स्थान पर हाजी अली की दरगाह बनी है। 

हाजी अली की दरगाह का नक्शा Haji Ali Dargah, Mumbai, Maharashtra Map

हाजी अली की दरगाह कैसे पहुंचेंHow to Reach Haji Ali Dargah

हाजी अली दरगाह तक पहुंचने के लिए मुंबई की स्थानीय यातायात सेवाएं अत्यधिक सुविधाजनक हैं। यहां पहुंचने के लिए यात्री बस, लोकल ट्रेन, टैक्सी सेवा का प्रयोग कर सकते हैं। ट्रेन से जाने के लिए मुंबई सेंट्रल से लोकल ट्रेन पकड़कर भायखला स्टेशन उतरकर वहां से टैक्सी ले सकते हैं। इसके अलावा यात्री छत्रपति शिवाजी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से टैक्सी और बस द्वारा भी इस दरगाह तक पहुंच सकते हैं। <>

ध्यान रखने योग्य बातेंPoints to remember

  • दरगाह में गुरुवार और शुक्रवार के दिन श्रद्धालुओं की अधिक भीड़ होती है
  • समुद्र में ज्वार के समय यहां का रास्ता पानी में डूब जाता है। इस दौरान यहां की यात्रा करना संभव नहीं हो पाता है

रोचक तथ्यInteresting Facts of Haji Ali Dargah

साल 1949 और 2005 को मुंबई में आई प्राकृतिक आपदाओं के कारण शहर की कई इमारतों को क्षति पहुंची थी लेकिन हाजी अली दरगाह को कोई नुकसान नहीं पहुंचा था दरगाह में गुरुवार और शुक्रवार के दिन श्रद्धालुओं की अधिक भीड़ होती है समुद्र में ज्वार के समय यहां का रास्ता पानी में डूब जाता है। इस दौरान यहां की यात्रा करना संभव नहीं हो पाता है।<>

मुंबई में स्थित हाजी अली की दरगाह (Haji Ali Dargah at Mumbai) एक अहम दरगाह (Dargaah) पर्यटन स्थल (Tourist Place, Paryatan Sthal) है। हाजी अली की दरगाह में समय (Haji Ali Dargah Timing) का विशेष ध्यान रखना चाहिए। इस लेख (Travel Guide) के माध्यम से यहाँ के इतिहास, कैसे पहुँचें, रोचक तथ्य आदि की जानकारी पर्यटकों की हाजी अली की दरगाह यात्रा (Mumbai Travel Guide) को पूर्ण करेगी।

हाजी अली की दरगाह के निकट दर्शनीय स्थलPlaces to Visit Near Haji Ali Dargah

महाराष्ट्र के पर्यटन स्थलTourist Places of Maharashtra

महाराष्ट्र के प्रमुख पर्यटन स्थलTop Tourist Places of Maharashtra