Go To Top
Raftaar HomeRaftaar Home
Search
Menu
`
Menu
close button
Elephanta Caves

एलीफेंटा गुफाएं पर्यटन स्थल Elephanta Caves Travel Guide

एलीफेंटा गुफाएं (Elephanta Caves)

एलीफेंटा की गुफाएं (Elephanta Caves), गुफाओं का एक समूह है जो कि एलीफेंटा द्वीप पर स्थित है। इस द्वीप पर विभिन्न राजवंशों का बोल बाला रहा है। मौर्य वंश, चालुक्य, सिलहरास, यादव वंश, अहमदाबाद के मुस्लिम राजाओं, पुर्तगालियों, मराठा और अंत में ब्रिटिश शासन के अधीन रह चुका यह द्वीप अपने इतिहास को दर्शाता है। यह पहले घारापुरी नाम से जाना जाता था परंतु जब यहां हाथियों की बड़ी-बड़ी मूर्तियां पायी गई तो इसका नाम "एलीफेंटा" रख दिया गया। वास्तव में यहां दो सामूहिक गुफाएं हैं जिसके पहले समूह में पांच हिंदू गुफाएं हैं, जिनमें पत्थरों को काटकर भगवान शिव के विभिन्न रूपों को उकेरा गया है। 6000 वर्ग फीट के क्षेत्रफल में फैली हुई इन गुफाओं में हिन्दू और बौद्ध धर्म की झलक दिखाई देती है। एलीफेंटा की गुफाएं अपनी अति सुंदर और जीवंत मूर्तियों के लिए अत्यधिक प्रसिद्ध हैं।

एलीफेंटा की गुफाओं का इतिहास (History of Elephanta Caves)

एलीफेंटा के बारे में स्थानीय लोगों का मानना है कि यह गुफाएं मानव निर्मित नहीं हैं। महाभारत काल में पांडवों ने निवास करने के लिए इस गुफा का निर्माण किया था। हालांकि इसके बाद यह गुफाएं नौंवीं शताब्दी से तेरहवीं शताब्दी तक के सिल्हारा वंश के राजाओं द्वारा निर्मित बताई जाती हैं। पुर्तगालियों को इन गुफाओं में हाथियों की बड़ी-बड़ी मूर्तियां मिली थी जिसके बाद उन्होंने इस स्थान का नाम "एलीफेंटा" रख दिया। एलीफेंटा की गुफाओं को वर्ष 1987 में यूनेस्को द्वारा विश्व विरासत का दर्जा प्राप्त हुआ।

एलीफेंटा गुफाएं का नक्शा Elephanta Caves, Mumbai, Maharashtra Map

एलीफेंटा गुफाएं कैसे पहुंचेंHow to Reach Elephanta Caves

एलीफेंटा की गुफाएं मुंबई में स्थित गेटवे ऑफ इंडिया से करीब दस किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। गेटवे ऑफ इंडिया से फैरी या बोट द्वारा यात्रा करके एलीफेंटा की गुफाओं तक पहुंचा जा सकता है। इस यात्रा में केवल एक घंटे का समय लगता है। छत्रपति शिवाजी अंतर्राष्‍ट्रीय हवाई अड्डे से गेटवे ऑफ इंडिया केवल 22 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यहां से टैक्सी सेवा आसानी से मिल जाती है।<>

ध्यान रखने योग्य बातेंPoints to remember

  • एलीफेंटा की गुफाओं तक फैरी द्वारा पहुंचने के लिए शुल्क लगता है
  • सोमवार के दिन यहां प्रवेश बंद रहता है
  • एलीफेंटा की गुफाओं में घूमने का समय सुबह 9 बजे से लेकर शाम पांच बजे तक होता है
  • एलीफेंटा की गुफाओं में काफी बंदर घूमते रहते हैं, इनसे सावधान रहें
  • मानसून के मौसम में यहां पहुंचने में थोड़ी परेशानी होती है

 <>

रोचक तथ्यInteresting Facts of Elephanta Caves

चालुक्य राजवंश के राजा पुलकेशिन द्वितीय ने इस गुफा में अपनी जीत का जश्न मनाने के लिए यहां भगवान शिव के मंदिर का निर्माण करवाया था। यहां भगवान शिव की कई मनमोहक मूर्तियां स्थापित हैं इनमें महायोगी मुद्रा और नटराज मुद्राएं खास हैं।<>

मुंबई में स्थित एलीफेंटा गुफाएं (Elephanta Caves at Mumbai) एक अहम गुफा (Cave) पर्यटन स्थल (Tourist Place, Paryatan Sthal) है। एलीफेंटा गुफाएं में समय (Elephanta Caves Timing) का विशेष ध्यान रखना चाहिए। इस लेख (Travel Guide) के माध्यम से यहाँ के इतिहास, कैसे पहुँचें, रोचक तथ्य आदि की जानकारी पर्यटकों की एलीफेंटा गुफाएं यात्रा (Mumbai Travel Guide) को पूर्ण करेगी।

एलीफेंटा गुफाएं के निकट दर्शनीय स्थलPlaces to Visit Near Elephanta Caves