Go To Top
Raftaar HomeRaftaar Home
Search
Menu
`
Menu
close button
Char Dham Yatra

चारधाम यात्रा पर्यटन स्थल Char dham Yatra Travel Guide

चारधाम यात्रा (Char dham Yatra)

उत्तराखंड राज्य के चमोली जिले में बद्रीनाथ, रुद्रप्रयाग जिले में केदारनाथ, उत्तरकाशी जिले में यमुनोत्री और गंगोत्री, हिमालय की गोद में स्थित चार प्रमुख तीर्थस्थल हैं, जिन्हें चारधाम कहा जाता है। इनमें यमुनोत्री धाम माँ यमुना नदी को, गंगोत्री माँ गंगा नदी को, केदारनाथ भगवान शिव और बद्रीनाथ धाम भगवान विष्णु को समर्पित है। केदारनाथ, देश में स्थित भगवान शिव के बारह ज्योर्तिलिंगों में से एक है। इन सभी धामों में बद्रीनाथ को सबसे महत्वपूर्ण माना गया है।

इस चारधाम यात्रा को “छोटा चारधाम” यात्रा भी कहा जाता है। चारधाम यात्रा प्रत्येक वर्ष अप्रैल-मई महीने में शुरू होकर जून-जुलाई तक होती है। मानसून और सर्दियों में (दिसंबर से मार्च) भारी बर्फ़बारी के कारण यात्रा बंद कर दी जाती है।

ऊंची पहाड़ी और खड़ी चढ़ाई होने के कारण पहले इन स्थलों तक पहुँचना एक चुनौती से कम नहीं होता था लेकिन वक़्त के साथ राज्य सरकार द्वारा यात्रा मार्गों को सुगम व सरल बनाने की कोशिश की गई है। श्रद्धालु अब हेलीकॉप्टर के द्वारा भी जल्दी और आसानी से तीर्थस्थल पहुँच दर्शन कर सकते हैं।

करें दर्शन पवित्र चार धामों के-

 

चारधाम यात्रा का नक्शा Char dham Yatra, Chamoli, uttarakhand Map

चमोली में स्थित चारधाम यात्रा (Char dham Yatra at Chamoli) एक अहम तीर्थयात्रा (Pilgrimage) पर्यटन स्थल (Tourist Place, Paryatan Sthal) है। चारधाम यात्रा में समय (Char dham Yatra Timing) का विशेष ध्यान रखना चाहिए। इस लेख (Travel Guide) के माध्यम से यहाँ के इतिहास, कैसे पहुँचें, रोचक तथ्य आदि की जानकारी पर्यटकों की चारधाम यात्रा यात्रा (Chamoli Travel Guide) को पूर्ण करेगी।

चारधाम यात्रा के निकट दर्शनीय स्थलPlaces to Visit Near Char dham Yatra

उत्तराखंड के प्रमुख पर्यटन स्थलTop Tourist Places of uttarakhand